• Home
  • |
  • About Us
  • |
  • Contact Us
  • |
  • Login
  • |
  • Subscribe
BPNLIVE

-
मुखबिर की सूचना के बाद सुरक्षाबलों की कार्रवाई
एनकाउंटर के बाद मुठभेड़ स्थल पर धमाका, एक नागरिक की मौत, कई घायल
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में सेना और आतंकियों के बीच जबर्दस्त मुठभेड़ में चार आतंकी मारे गए। इसके बाद एनकाउंटर साइट के पास एक जबर्दस्त धमाका हुआ, जिसमें एक नागरिक की मौत हो गई और कई लोगों के घायल होने का समाचार है। घटना के बाद अपने बयान में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कहा कि लोगों से मुठभेड़ के बाद एनकाउंटर साइट पर ना जाने की अपील की गई थी, जिसे ना मानकर कई लोग यहां पहुंच गए। इसी बीच यहां ब्लास्ट हुआ, जिसमें एक नागरिक की मौत हो गई। धमाके के बाद मौके पर पहुंचे सेना, पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने तत्काल घायल लोगों को धमाके की जगह से निकाला, जिसके बाद प्रशासन की मदद से इन्हें कुलगाम के स्थानीय अस्पताल में शिफ्ट किया गया। इनमें से कुछ लोगों को हालत गंभीर होने पर श्रीनगर के अस्पताल में रेफर किया गया है। 
दरअसल, इस धमाके से कुछ देर पहले ही इलाके में हुई एक मुठभेड़ में सेना ने 4 आतंकियों को मार गिराया था। सेना की राष्ट्रीय राइफल्स को शनिवार-रविवार देर रात कुलगाम जिले के लारनू इलाके में 4-5 आतंकियों की आवाजाही की खबर मिली थी। इस सूचना पर कार्रवाई करते हुए रविवार सुबह इस इलाके में सेना की राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस की एसओजी और केंद्रीय रिजर्व पुलिस के जवानों ने बड़ा तलाशी अभियान शुरू किया। इस बीच यहां एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी कर भागने का प्रयास किया, जिसके जवाब में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग कर आतंकियों के खिलाफ काउंटर ऑपरेशन शुरू किया। 

इलाके में तनाव के बीच इंटरनेट बंद 
इस ऑपरेशन के दौरान मकान में छिपे 4 आतंकियों को मार गिराया गया। इस कार्रवाई के बाद मीडिया से बात करते हुए राज्य के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि इस ऑपरेशन में 4 आतंकियों के मारे जाने के बाद मुठभेड़ को खत्म कर दिया गया है। इसके अलावा मारे गए आतंकियों की पहचान की जा रही है। डीजीपी के इस बयान के बाद ही इलाके में ब्लास्ट की बात सामने आई, जिसके बाद सुरक्षाबलों को फिर मौके पर भेजा गया। बताया जा रहा है कि कुलगाम में तनाव को देखते हुए इलाके में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा यहां पर सेना, पुलिस और सीआरपीएफ की कई टीमों को भी तैनात किया गया है। 
 

Leave a comment