• Home
  • |
  • About Us
  • |
  • Contact Us
  • |
  • Login
  • |
  • Subscribe
BPNLIVE

रामकोट परिक्रमा-संकल्प सभा का किया ऐलान

चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस बल से भिड़े समर्थक

 

अयोध्या। राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर अयोध्या पहुंचे अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के प्रमुख प्रवीण तोगडिय़ा ने प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। सोमवार को जहां तोगडिय़ा जिला प्रशासन से बिना अनुमति लिए सरयू तट पर सभा करने पहुंच गए थे, वहीं मंगलवार को रामकोट परिक्रमा और सरयू तट पर संकल्प सभा के चलते अयोध्या में हाई अलर्ट घोषित कर दिया। हालांकि बाद में प्रशासन के मान मनौवल के बाद तोगडिय़ा ने रामकोट की परिक्रमा का प्रोग्राम रद्द कर दिया।

दरअसल, प्रशासन से टकराव की आशंका को देखते हुए अयोध्या में खास सतर्कता बरती जा रही थी। सोमवार से ही तोगडिय़ा के हर कदम पर प्रसाशन की विशेष निगाह बनी हुई रही। इसके बाद तोगडिय़ा सरयू तट पर संकल्प सभा करने पर अड़ गए। इस बीच जबरन राम जन्मभूमि की तरफ जा रहे तोगडिय़ा समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। इस झड़प में एएचपी के कई कार्यकर्ता घायल भी हुए।

 

टकराव की आशंका

दरअसल, प्रशासन से टकराव की आशंका को देखते हुए अयोध्या में खास सतर्कता बरती जा रही है। सोमवार से ही तोगडिय़ा के हर कदम पर प्रशासन की विशेष निगाह बनी हुई है। मंगलवार सुबह अचानक बड़ी सं या में एएचपी कार्यकर्ता रामकोट परिक्रमा के लिए आगे बढऩे लगे। गौरतलब है कि अयोध्या की तरफ जाने वाले एक बैरियर को धकेलकर समर्थक जबरन घुसने की कोशिश कर रहे थे। इस दौरान पुलिस से उनकी झड़प हो गई। फिलहाल इसे लेकर तनाव की स्थिति बनी हुई है। जिले के आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं।

 

दिल्ली में 500 करोड़ का बीजेपी दफ्तर

दरअसल, सोमवार को जिला प्रशासन से सरयू तट पर सभा की अनुमति ना मिलने के बावजूद प्रवीण तोगडिय़ा ने वहां समर्थकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि 32 साल से आरएसएस, बीजेपी और वीएचपी एक ही मुद्दे को लेकर राम मंदिर का आंदोलन चला रहे थे कि संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बने। तोगडिय़ा ने आरोप लगाया कि अब जब यही लोग पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में हैं तो राम मंदिर का दर्शन तक करने नहीं आते। अयोध्या में बीजेपी पर हमला बोलते हुए तोगडिय़ा ने कहा, दिल्ली में 500 करोड़ का बीजेपी दफ्तर बनवा लिया, मगर रामलला आज भी टाट में ही हैं। तोगडिय़ा ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि हमें अयोध्या में रहने से रोका गया। हमारे समर्थकों के खाने के सामान से लदे ट्रक को रोका गया, ऐसा तो मुलायम राज में हुआ था।

 

शिवसेना सांसद संजय राउत मिलेंगे तोगडिय़ा से

उधर, राम मंदिर मुद्दे पर अब शिवसेना भी लगातार केंद्र पर निशाना साध रही है। इसी क्रम में 25 नव बर को शिवसेना प्रमुख उद्धव अयोध्या पहुंच रहे हैं। इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत फैजाबाद पहुंच गए हैं। माना जा रहा है कि वह मंगलवार को प्रवीण तोगडिय़ा से मुलाकात कर सकते हैं। प्रवीण तोगडिय़ा ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार लखनऊ में बाबरी मस्जिद बनवाने जा रही है। उनका राम मंदिर का वादा भी जुमला साबित हुआ।

 

बीजेपी को ही बना दिया कांग्रेस युक्त

तोगडिय़ा ने सीधे पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा, कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देते-देते बीजेपी को ही कांग्रेस युक्त बना दिया। कांग्रेस का कचरा, जिसे उनके यहां कोई नहीं पूछ रहा था उसे बीजेपी में लाकर बड़े पदों पर बैठा दिया। मूल भाजपाई बेचारा राम मंदिर का सपना देखते हुए अभी भी रो रहा है।

Leave a comment