• Home
  • |
  • About Us
  • |
  • Contact Us
  • |
  • Login
  • |
  • Subscribe
BPNLIVE

कांग्रेस-बीजेपी में दलबदलुओं की मौज
टिकट वितरण के निर्धारित मापदंडों की उड़ाईं धज्जियां
राहुल के दावों की भी नामांकन में खुली पोल
जयपुर। विधानसभा चुनावों में टिकट वितरण के दौरान मची उठापटक, दल-बदल की राजनीति और जीताऊ उम्मीदवार के फेर में कई सीटें पैराशूटर प्रत्याशियों ने हथिया ली. इसके चलते इन विधानसभा क्षेत्रों में बरसों से पार्टियों के लिए मेहनत करने वाले दावेदारों के सपने चकनाचूर हो गए. टिकट नहीं मिलने से इनमें से कुछ तो बागी हो गए तो कुछ मन मसोसकर चुप बैठ गए.बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने टिकट वितरण से पहले कथित रूप से कुछ मापदंडों को तय किया था. लेकिन पार्टियां उन पर खरी नहीं उतर पाईं और अंतत: मामला मापदंड की बजाय पसंद-नापसंद और जीताऊ उम्मीदवार पर आकर टिक गया. वहीं इन सब पर दल-बदल की राजनीति भारी पड़ गई. इस चुनाव में पहले के चुनावों के मुकाबले दल-बदल की राजनीति चरम पर रही. कांग्रेस आलाकमान का वादा 'पैराशूट उम्मीदवारों की रस्सी मैं खुद काटूंगा'. पूरी तरह से झुठला दिया गया.
हावी रहे दल बदलू
दल-बदल की इस राजनीति और जीताऊ उम्मीद के फेर में बरसों से मेहनत कर रहे कार्यकर्ताओं का पार्टियों ने मनोबल तोड़कर रख दिया. इनमें से कुछ ने बगावत कर ताल ठोक दी तो कुछ चुप बैठ गए. वहीं झालरापाटन और टोंक से दिग्गज खड़े होने के कारण स्थानीय और छोटे नेताओं को दरकिनार रणनीति के तहत बाहरी दिग्गजों को उतार दिया गया.
बीजेपी के पैराशूटर उम्मीदवार
पील्लदा - ममता शर्मा (कांग्रेस से आई बूंदी की पूर्व विधायक)
लाडपुरा - कल्पना राजे (कोटा से कांग्रेस के पूर्व सांसद इज्यराज सिंह की पत्नी)
बांदीकुई - रामकिशोर सैनी (कांग्रेस सरकार में मंत्री रह चुके हैं)
झुंझुनूं - कांग्रेसी राजेन्द्र भामू को पार्टी ज्वाइन करते ही टिकट थमाया.
रतनगढ़ - कांग्रेस से आए अभिनेष महर्षि को रतनगढ़ से उतारा.
नाथद्वारा - कांग्रेसी महेशप्रताप सिंह को पार्टी ज्वॉइन करवा कर प्रत्याशी बनाया.
बाड़मेर - उम्मीदों के विपरीत सांसद कर्नल सोनाराम की यहां लैडिंग करा दी गई.
टोंक - कांग्रेस द्वारा पीसीसी चीफ सचिन पायलट को उतारे जाने के बाद बीजेपी ने अपने प्रत्याशी अजीत मेहता को मैदान से हटाकर मंत्री यूनुस खान को उतारा.
कांग्रेस ने यहां से उतारे पैराशूटर उम्मीदवार
बीकानेर पश्चिम - दो बार हार के मापदंडों का दरकिनार यशपाल गहलोत का टिकट काटकर डॉ. बीडी कल्ला को दिया.
बीकानेर पूर्व - नोखा के वरिष्ठ नेता कन्हैयालाल झंवर को कांग्रेस ज्वॉइन करवाकर टिकट दिया.
नागौर - बीजेपी से आए विधायक हबीबुर्रहमान को पार्टी में शामिल कर टिकट थमाया.
देवली-उनियारा - बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में आए सांसद हरीश मीणा को टिकट दे दी गई.
रायसिंह नगर - जमींदारा पार्टी से आई सोनादेवी बावरी को प्रत्याशी बना दिया.
खींवसर - हाल ही में पार्टी में आए पुलिस अधिकारी सवाई सिंह गोदारा को टिकट दिया गया.
नवलगढ़ - निर्दलीय विधायक डॉ. राजकुमार को प्रत्याशी बनाया. हालांकि इनका लगभग पहले से तय था.
झालरापाटन - सीएम राजे की सीट होने के कारण कांग्रेस ने यहां बाड़मेर से लाकर मानवेन्द्र सिंह को उतार दिया. 

Leave a comment